हैकर : साइबर दुनिया के कलाकार (Hacker: Artist of cyber world)

हैकर्स के मायाजाल को समझने के लिए खुद भी हैकर्स की तरह सोचना पड़ता है (To understand the tricks of hackers, one has to think like a hacker.)

डॉ. अजित वरवंडकर(सीनियर कॅरिअर काउंसलर) Dr. Ajit Varvandkar (Senior Career Counselor)

साइबर स्पेस की दुनिया में आए दिन ऐसी घटनाएं सा सुनने को मिलती हैं, जहां वेबसाइट हैकिंग, डेटाबेस हैकिंग कंप्यूटर हैकिंग से बचने के लिए एथिकल हैकिंग का रास्ता अपनाया जाता है। यह एक प्रकार की साइबर सुरक्षा कला ह जिसमें संगठन की सुरक्षा प्रणाली को जांचने व मजबूत करने के लिए सिस्टम्स और नेटवर्क में सुरक्षा की कमियों को पहचानने का प्रयास किया जाता है।

साइबर क्राइम (cyber crime) साइबर क्राइम वह क्रीम होता है जिसमें अपने कंप्यूटर को या इलेक्ट्रिक इलेक्ट्रॉनिक डिवाइस को उसे करके दूसरे व्यक्ति की सारी जानकारी चुरा ली जाती है उसे साइबर क्राइम कहते हैं और उस जानकारी का गलत उपयोग करने की धमकी दी जाती है तो वह भी साइबर क्राइम में ही आता है अगर कोई हैकर साइबर क्राइम कर रहा है और वह बड़े लेवल पर कर रहा है

तो उसे साइबर टेररिस्ट भी कहा जाता है या साइबर आतंकवाद का जाता है साइबर अटैक में चोरी कारी चीज आती है जैसे डाटा चोरी, दस्तावेज, धोखाधड़ी, बाल अश्लीलता और नफरत फैलाना यह अपराध साइबर आतंकवाद में आते हैंऔर इस इस साइबर अपराध को जो अंजाम देते हैं उन्हें साइबर अपराधी या साइबर क्रिमिनल कहा जाता है यह साइबर क्रिमिनल कंप्यूटर और इंटरनेट टेक्नोलॉजी का इस्तेमाल करके लोगों के सिस्टम में घुस जाते हैं

और उनसे उनका पर्सनल इनफॉरमेशन (पर्सनल डाटा) जैसे बैंक डिटेल, पर्सनल इनफॉरमेशन, बिजनेस ट्रेड्स को चोरी कर लेते हैं जो लोग इन इलीगल एक्टिविटी को करते हैं उन्हें हैकर्स या क्रैकर्स कहा जाता है हैकर्स साइबर क्राइम करने के लिए कंप्यूटर का इस्तेमाल करते हैं इसलिए इसे कंप्यूटर क्रीम भी कह सकते हैं

कौन होते हैं एथिकल हैकर्स (Who are ethical hackers?)
एथिकल हैकर्स अपनी हैकिंग टेक्निक और स्किल्स का प्रयोग कर कंप्यूटर सिस्टम में उन कमियों का पता लगाते हैं, जिनके जरिये हैकिंग गतिविधियों को अंजाम दिया जा सकता है। इन्हें ‘व्हाइट हैकर्स’ भी कहते हैं। ये साइबर अपराधियों के खिलाफ लड़ाई में अहम भूमिका निभाते हुए, डेटा व नेटवर्क सुरक्षा को बढ़ावा देने में मदद करते हैं एथिकल हैकर्स पुणे हैकर्स को कहा जाता है

जो साइबर क्राइम को रोकने में हमारी मदद करते हैं और हमारा डाटा से रखते हैं जैसे किसी बिजनेस के दाता के लिए एथिकल हैकर्स को हायर किया जाता है दुनिया भर में इसकी डिमांड बहुत ज्यादा बढ़ रही है क्योंकि आजकल हैकर्स नजर गड़ाए हुए हमारे उत्तर पर नजर रखते हैं इसलिए हम इन एथिकल हैकर्स को हायर करते हैं जिसे हमारा डाटा सुरक्षित रहे इस एथिकल हैकिंग को आप भी सीख सकते हैं और इस हैकिंग को सीखने के बाद आप किसी भी कंपनी में साइबर क्राइम को रोकने के लिए इंटरव्यू दे सकते हैं

इंटरव्यू देने के बाद उसे कंपनी को अगर आपकी काबिलियत अच्छी लगती है तो वह आपको हायर कर कर लेंगे यह सिक्योरिटी को बढ़ा देते हैं इनके होते हैं आपको सिक्योरिटी की कोई भी समस्या नहीं आएगी इसलिए लोग इन्हें हायर करते हैं जिससे हैकर्स से बचा जा सके है

कोर्सेज और संस्थान (Courses and Institutes)
कंप्यूटर साइंस या इन्फॉरमेशन टेक्नोलॉजी में बीसीए, बीटेक, एमसीए आदि डिग्री रखने वाले युवा इस कोर्स में प्रवेश ले सकते हैं। आपके पास प्रोग्रामिंग लैंग्वेज और कंप्यूटर में प्रयोग होने वाले ऑपरेटिंग सिस्टम जैसे विंडोज, पाइथन, C++ या लिनक्स के बारे में ज्ञान होना अनिवार्य है। आप नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ इलेक्ट्रॉनिक्स एंड इन्फॉर्मेशन, एसआरएम यूनिवर्सिटी आदि संस्थानों से एथिकल हैकिंग सर्टिफिकेट कोर्स, साइबर सिक्योरिटी सर्टिफिकेट कोर्स आदि कर सकते हैं।

चुनौतियों से भरा है यह क्षेत्र (This area is full of challenges)

एथिकल हैकर्स के लिए यह क्षेत्र रोमांचक होने के साथ ही. चुनौतियों से भी भरा है, जहां उन्हें हैकर्स के मायाजाल को समझने के लिए खुद भी हैकर्स की तरह सोचना पड़ता है। इसके लिए नई टेक्नोलॉजी के बारे में गहन जानकारी होना बेहद जरूरी है। आवश्यकता पड़ने पर 24 घंटे कार्य करने की चुनौती भी रहती है

मिलेगी नौकरी (where will you get the job)

‘खुफिया विभाग, फॉरेंसिक डिपार्टमेंट, सरकारी व निजीबैंक एवं अन्य सरकारी विभागों में आजकल साइबर क्राइम से निपटने के लिए अलग से साइबर सेल मौजूद हैं, जहां योग्य एथिकल हैकर्स की जरूरत रहती है। विभिन्न साइबर सुरक्षा विशेषज्ञों की मांग में वृद्धि इस क्षेत्र में दक्ष पेशेवरों के लिए कई सेक्टर्स में अपनी योग्यता दिखाने का मौका दे रही हैं मल्टीनेशनल कंपनियों में सिक्योरिटी एडमिनिस्ट्रेटर, नेटवर्क सिक्योरिटी स्पेशलिस्ट और फॉरेंसिक ऑर्गनाइजेशन में बतौर डेटा सुरक्षा विश्लेषक, साइबर सुरक्षा विश्लेषक आदि के पद पर कार्य कर सकते है

लाखों में है वेतन (Salary is in lakhs)

प्रतिभा और अनुभव के आधार पर आपका वेतन तय होता है। प्रमाणित एथिकल हैकर का औसत वेतन 5.3 लाख रुपये से लेकर 25 लाख रुपये प्रतिवर्ष हो सकता है।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *